Wednesday, June 19, 2024

विश्व कैंसर दिवस 4 फरवरी को, जिले में कैंसर जांच शिविरों का होगा आयोजन

Must Read

कोरबा 03 फरवरी 2023/कलेक्टर श्री संजीव झा के निर्देशानुसार 4 फरवरी विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर जिले के जिला चिकित्सालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा समस्त हेल्थ एण्ड वैलनेस सेंटरों में कैंसर जागरूकता, जांच तथा स्क्रीनिंग के लिए शिविर लगाए जाएंगे। साथ ही दंत चिकित्सकों द्वारा मुख के कैंसर की जांच एवं आवश्यक दवा वितरण भी की जाएगी। सीएमएचओ डाॅ. एसएन केसरी ने बताया कि कैंसर सबसे गंभीर बीमारियों में से एक है। हर साल कई तरह के कैंसर के कारण लाखों लोगों की मौत हो जाती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक कैंसर निश्चित ही काफी घातक बिमारी है। पर अगर इसके बारें में लोगों को सही जानकारी तथा स्थिति की समय से पहचान हो जाने पर कैंसर का ईलाज किया जा सकता है। साथ ही इसके कारण होने वाली गंभीरता एवं मौत के खतरे को भी कम किया जा सकता है। कैंसर कोशिका के असामान्य तरीके से बढनें की बीमारी है आम तौर पर हमारे शरीर की कोशिकाएं नियंत्रित तरीकें से बढ़ती है और विभाजित होती है। जब सामान्य कोशिका को नुकसान पहुंचता हैं या कोशिकाएं पुरानी हो जाती है तो वे मर जाती है। और उनकी जगह स्वस्थ्य कोशिकाएं ले लेती है। कैंसर की कोशिकाएं असामान्य रूप सें बढती रहती है, और उन्हें जब रूकना चाहिए तो कई गुना बढ जाती है जिसके परिणाम स्वरूप ट्यूमर हो जाता है। हालांकि हर ट्यूमर कैंसर नहीं होता हैं, विशेषतः ब्रेस्ट कैंसर, ओरल कैंसर, सरवाइकल कैंसर, स्कीन कैंसर, लंग कैंसर कोलेन कैंसर प्रोस्टेड कैंसर, लिम्कोम फेफडो को कैंसर, सहित और कई प्रकार के कैंसर होती है। कैंसर क्यों होता है इसके पीछे कोई ज्ञात कारण नहीं है। हालांकि कुछ कारण कैंसर होने की संभावना को बढ़ा सकते है। हमें इस घातक स्थिति से खुद को बचाने के लिए संभावित कारको जैसे परिवार में कैंसर होने का इतिहास, स्वस्थ्य खानपान का अभाव, निष्क्रिय रहना, तम्बाकू का सेवन नहीं करने इत्यादि के बारे में जागरूक चाहिए। कैंसर के लक्षण होने पर लोगों को अतिरिक्त सावधानी बरतना एवं स्क्रीनिंग जरूर कराना चाहिए जिससे कैंसर का पता जल्दी चलने से उपचार भी समय पर शुरू किया जा सकता है।


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एस. एन. केसरी ने कहा कि दुर्भाग्य से ज्यादातर कैंसर शुरआत में पकड़ में नहीं आता। इसका मुख्य कारण जानकारी का आभाव है। असरकारी ढंग से नियमित रूप से कैंसर की संभावना पर नजर रखने से कैंसर का तुरंत जांच तथा ईलाज किया जा सकता है। उन्होनें जिले के नागरिको से अपील किया है कि जिन व्यक्तियों का अचानक वजन कम हो रहा हो, अत्यधिक थकान, शरीर के किसी हिस्से में गांढ, त्वचा में बदलाव जैसे लालिमा, मस्से में परिवर्तन, निगलने में कठिनाई, लगतार खांसी, तेज दर्द, ब्लैडर फंग्शन में बदलाव, लिम्फनोड में सूजन, एनिमिया इत्यादि लक्षण हो तो वे जिला चिकित्सालय सामु.स्वा.केन्द्रों प्रा.स्वा. केन्द्रों तथा हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर मे स्क्रीनिंग करवा सकते है, जिससे तुरंत जांच तथा ईलाज किया जा सकें, और कैंसर के खतरे का कम किया जा सकता हैं।

- Advertisement -
0FansLike
- Advertisement -
Latest News

🚁लोक जनशक्ति पार्टी (रा.)के कोरबा, जिलाध्यक्ष राजकुमार दुबे नामांकन रैली के लिए हाजीपुर (बिहार) हुए रवाना,🚁

लोक जनशक्ति पार्टी (रा.) छत्तीसगढ़ के सैकड़ो पदाधिकारी व कार्यकर्ता प्रदेशध्यक्ष माननीय शरत पांडेय जी के मार्गदर्शन में दो...

More Articles Like This