Tuesday, June 18, 2024

महिला सहित तीन लोगो की मौत, कपड़ा, मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक सहित आधा दर्जन से अधिक दुकानों में लगी आग,

Must Read

कोरबा।। कोरबा के ट्रांसपोर्ट नगर चैराहे पर नगर निगम के कमर्शियल कंपलेक्स में दोपहर को हुई आगजनी की घटना में काफी नुकसान दायक रहा। जानकारी मिली है कि यहां पर संचालित एक राष्ट्रीयकृत बैंक के कर्मचारी सहित तीन लोगों की दम घुटने से आखिरकार मौत हो गई। काफी समय तक धुएं के संपर्क में ये लोग रहे और इसके चलते इनकी हालत बिगड़ गई। दमकलकर्मियों ने जैसे-तैसे पीड़ित बैंक कर्मी पीड़ित रश्मि सिंह, निवासी चिरमिरी और ग्राम करूंमहुआ निवासी शत्रुघ्न धीरहे के अलावा एक और व्यक्ति को यहां से रेस्क्यु किया गया। आनन-फानन में एंबुलेंस से इन्हें कोरबा के मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। याद रहे दुर्घटना स्थल कमर्शियल कंपलेक्स में पहले इलाहाबाद बैंक संचालित हो रहा था जिसे इंडियन बैंक के साथ मर्ज कर दिया गया और अब बैंक इसी नाम से संचालित हो रहा है। आगजनी की इस घटना में आसपास कई दुकानें चपेट में आ गई, जिससे कारोबारियों को करोड़ों की चपत लगी है।

छत्‍तीसगढ़ के कोरबा शहर के मध्य स्थित टीपीनगर क्षेत्र में एक कपड़े की दुकान में अचानक आग लग गई। देखते-देखते आसपास के आधा दर्जन से अधिक दुकानों तक आग फैल गई। दुकान में आग की लपटें और तेज होती गई चारों ओर जलती आग दिखाई पड़ रही थी धीरे-धीरे अन्य दुकानों में आग फैलने लगी और धुआं धुआं चारों और दिखने लगा दमकल विभाग की टीम यदि समय रहते पहुंच जाती तो शायद जो लोगों की जान गई है वह बच भी सकती थी और जो नुकसान हुआ है वह भी कम होता क्योंकि ट्रांसपोर्ट नगर के आसपास में ही कई दमकल की गाड़ियां 24 घंटे इमरजेंसी मोड में खड़ी रहती हैं चाहे वह CSEB की हो चाहे नगर निगम की लेकिन दमकल की गाड़ियां आने में देर जरूर हुआ है इससे नकारा नहीं जा सकता और कहीं ना कहीं दुकानों में आग बुझाने के यंत्र भी शायद नहीं रहे होंगे या तो यंत्र का प्रशिक्षण लोगों को नहीं मिला होगा क्योंकि जिस समय आग लगी है उस समय यदि फायर एक्सटिंग्विशर के छोटे यंत्र भी होते तो आग पर काबू आसानी से पा लिया जाता ,कहीं ना कहीं नगर निगम को इस बारे में और अधिक सोचने की जरूरत है ताकि भविष्य में जिस तरह से आज लोगों के जानमाल का नुकसान हुआ है भविष्य में ना हो यही हम सब भगवान से भी प्रार्थना करते हैं ,यह दुखद की घड़ी है और हम सब की संवेदना उन सभी प्रभावितों के परिवारों के साथ है,

आगजनी की घटना जहां हुई उसके ठीक नजदीक में एक हैंडलूम की दुकान है। संचालक ने सूझबूझ का परिचय देते हुए नीचे गद्दा बिछा दिया। इसकी वजह से पहले मंजिल में फंसे लोग आसानी से नीचे कूद गए और उन्हें ज्यादा चोट नहीं लगी।

खिड़की से छलांग लगाते लोग

50 से अधिक लोग आगजनी की घटना में फंसे थे। 10 से अधिक लोग खिड़की से कूदकर बाहर निकले। कुछ लोगों को सीढ़ी के माध्यम से दमकल की टीम ने काफी मशक्कत से बाहर निकाला। बैंक का एक सुरक्षाकर्मी अंदर ही फस गया था सबसे अंत में उसे सुरक्षित बाहर निकाला गया। साहेब कलेक्शन शोरूम में पहले आग लगने की खबर आई। आग की लपटें दूर तक दिखाई दे रही थी । फिलहाल शहर के बीच आग लगने की घटना से लोगों के बीच अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया था। मौके पर कई गाड़ियों के साथ दमकल विभाग आग बुझाने का प्रयास करती रही।

मामले की गंभीरता को देखते हुए कोरबा कलेक्टर श्री संजीव झा मौके पर पहुंचे थे और प्रभावितों को नियमानुसार मुआवजा/सहयोग राशि जो उचित हो देने का आश्वासन दिया है

पुलिस विभाग के अधिकारी कर्मचारी सहयोगात्मक रूप से अलर्ट मोड में दिखे

- Advertisement -
0FansLike
- Advertisement -
Latest News

🚁लोक जनशक्ति पार्टी (रा.)के कोरबा, जिलाध्यक्ष राजकुमार दुबे नामांकन रैली के लिए हाजीपुर (बिहार) हुए रवाना,🚁

लोक जनशक्ति पार्टी (रा.) छत्तीसगढ़ के सैकड़ो पदाधिकारी व कार्यकर्ता प्रदेशध्यक्ष माननीय शरत पांडेय जी के मार्गदर्शन में दो...

More Articles Like This