Thursday, June 20, 2024

कोरबा की शिक्षा व्यवस्था पर नाराजगी व्यक्त करते हुए राजकुमार दुबे ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन,

Must Read

लोक जनशक्ति पार्टी (रा.) के कोरबा जिलाध्यक्ष राजकुमार दुबे के द्वारा कलेक्टर जनदर्शन में कोरबा जिले की शिक्षा व्यवस्था पर अपनी नाराजगी जताते हुए शिक्षा व्यवस्था को दुरुस्त करने की मांग की है,
दुबे ने कहा कि विगत तीन साल से मननान आलम के बच्चे अरमान आलम, अल्फ्रान आलम, अल्फिया आलम का एडमिशन इसलिए नहीं हो रहा है क्योंकि बीच में कोरोना और परिवार की बदहाली आड़े हाथ आ रही है दुबे ने उक्त तीनों बच्चों को किसी स्कूल में तत्काल एडमिशन दिलाने की मांग करते हुए कलेक्टर से यह कहां की शिक्षा का अधिकार कानून कोरबा जिले में बदहाल स्थिति में पहुंच चुका है, दुबे ने कहा कि उक्त तीनों बच्चों के अभिभावक तमाम आवेदन कलेक्टर कोरबा एवं जिला शिक्षा अधिकारी को दिया है, लेकिन उसका कोई भी प्रभाव होता हुआ नहीं दिखाई दे रहा है, आज परिवार की स्थिति ऐसा है की पूरा परिवार बच्चों के पढ़ाई को लेकर इस तरह परेशान है, कि बच्चों के पिता कई बार स्कूल में ही बेहोश हो गए हैं, जिला अस्पताल में एडमिट करने तक की नौबत आ गई थी ,लेकिन लापरवाही में आकंठ डूबे कोरबा जिले के स्कूलों के जिम्मेदार अधिकारी व कर्मचारी के कान में जूं तक नहीं रेंग रहा है, जिला शिक्षा अधिकारी के द्वारा जारी किए गए पत्र पर भी कोई कार्यवाही अभी तक नहीं हो रही है, जबकि पूरे देश में शिक्षा का अधिकार कानून पूर्ण रूप से प्रभावी है, और 14 साल से कम उम्र के बच्चे को नि:शुल्क व अनिवार्य शिक्षा देना कानून का मुख्य उद्देश्य है,उसके बावजूद कोरबा जिले में शिक्षा की स्थिति कैसी है इससे अंदाजा लगाया जा सकता है, कि विगत 3 वर्ष से बच्चों का अभिभावक स्कूल और ऑफिसो का चक्कर लगा रहा है, लेकिन अभिभावक के तीनों बच्चे अपने शिक्षा के अधिकार से वंचित हो रहे हैं, जब शहर की स्थिति शिक्षा के मामले में ऐसी है, तो आकांक्षी जिला कोरबा होने के कारण ग्रामीण एरिया में शिक्षा का स्तर और बच्चों के शिक्षा के अधिकार की धज्जियां कैसे उड़ाई जाती होंगी,यह सहज अंदाजा लगाया जा सकता है, दुबे ने कहा कि कोरबा जिले में सैकड़ों बच्चे अधिकारियों व कर्मचारियों के लापरवाही के कारण आज अपने अधिकार से वंचित हो रहे हैं, और अनपढ़ स्थिति में पड़े हुए अपने भाग्य को कोस रहे हैं,


दुबे ने कलेक्टर से नाराजगी भरे लफ्जों में कहा कि उक्त तीनों बच्चों को किसी भी स्कूल में तत्काल एडमिशन कराने की कृपा करें, एवं जिले के शिक्षा विभाग की स्थिति का आकलन पूरे जिले में कराते हुए उचित मार्गदर्शन संबंधित विभाग को देने की कृपा करें, क्योंकि पूरे जिले में हजारों बच्चे शिक्षा विभाग के गैर जिम्मेदाराना रवैया से अनपढ़ पड़े हुए हैं, कारण जो भी हो निवारण करने का कष्ट करते हुए सभी को शिक्षा का अधिकार प्राप्त करवाने की कृपा करें, कलेक्टर कोरबा ने राजकुमार दुबे को आश्वस्त किया कि बहुत जल्द उक्त तीनों बच्चों को स्कूलों में नियमानुसार दाखिला दिलाया जाएगा ,

- Advertisement -
0FansLike
- Advertisement -
Latest News

🚁लोक जनशक्ति पार्टी (रा.)के कोरबा, जिलाध्यक्ष राजकुमार दुबे नामांकन रैली के लिए हाजीपुर (बिहार) हुए रवाना,🚁

लोक जनशक्ति पार्टी (रा.) छत्तीसगढ़ के सैकड़ो पदाधिकारी व कार्यकर्ता प्रदेशध्यक्ष माननीय शरत पांडेय जी के मार्गदर्शन में दो...

More Articles Like This